भारत में कार इंश्योरेंस के प्रकार

2 मिनट में कार इंश्योरेंस प्रीमियम देखें
Happy Couple Standing Beside Car

Third-party premium has changed from 1st June. Renew now

I agree to the  Terms & Conditions

Don't know Registration number?
Renew your Digit policy instantly right

भारत में कार इंश्योरेंस योजनाओं के प्रकार

भारत में कार इंश्योरेंस के प्रकार

car-quarter-circle-chart

थर्ड पार्टी

थर्ड पार्टी कार इंश्योरेंस सबसे ज्यादा करवाया जाने वाला कार इंश्योरेंस है जिसमें थर्ड पार्टी के व्यक्ति, वाहन या संपत्ति को होने वाले नुकसान को कवर किया जाता है।

car-full-circle-chart

कॉम्प्रिहेंसिव

 कॉम्प्रिहेंसिव कार इंश्योरेंस महत्वपूर्ण इंश्योरेंस है क्योंकि ये थर्ड पार्टी के नुकसान के साथ आपकी खुद की कार के नुकसान को भी कवर करता है।

थर्ड-पार्टी

कॉम्प्रिहेंसिव

×
×
×
×
×
×
×

कोट प्राप्त करें थर्ड पार्टी और कॉमप्रिहेंसिव इंश्योरेंस के बीच अंतर के बारे में ज्यादा जानें

कार इंश्योरेंस कवरेज

कार इंश्योरेंस एड-ऑन्स

कॉमप्रिहेंसिव इंश्योरेंस कवर के साथ दूसरी सबसे जरूरी बात है उसके एड-ऑन्स। आइए उनके बारे में यहां जानते हैं:

जीरो डेप्रिसिएशन कवर

आपकी कार डेप्रिशिएट करती है यानि उसकी खरीद के बाद से हर गुजरते दिन के साथ बाजार में उसकी कीमत घटती जाती है। इस कवर में सेटेलमेंट के दौरान इंश्योरर डेप्रिसिएशन को नहीं गिनता है जिससे आपकी कार उतनी ही कीमती बनी रहती है। जीरो डेप्रिसिएशन कार इंश्योरेंस के बारे में और जानें।

इंजन प्रोटेक्शन कवर

वॉटर डैमेज, लुब्रिकेशन ऑयल आदि के कारण गियर बॉक्स और इंजन को होने वाले नुकसान को कवर किया जाता है। इंजन प्रोटेक्शन कवर के बारे में और जानें।

रोड साइड असिस्टेंस (RSA)

ये कवर तब काम आता है जब आप कार में नुकसान के कारण सड़क पर फस गए हों। RSA आपको वहां से निकालने और आपकी कार को रिपेयर करने या उसे नजदीकी सर्विस सेंटर ले जाने का काम करता है।

कंज़्यूमेबल कवर

ये कार के कंज़्यूमेबल को कवर करता है। इसमें लुब्रिकेटिंग ऑयल, पेंच, स्क्रू, बोल्ट आदि शामिल हैं।

रिटर्न टू इनवॉइस कवर

इसमें सुनिश्चित किया जाता है कि आपकी कार चोरी होने या उसे पूरी तरह से नुकसान पहुंचने पर आपको भरपाई के तौर पर IDV या बाजार की कीमत नहीं बल्कि एक्स शोरूम कीमत मिल सके। कार इंश्योरेंस में RTI के बारे में और जानें

पैसेंजर कवर

इस कवर में आपके साथ ही आपकी कार में जाने वाली सभी सवारियों को इमरजेंसी के समय कवर किया जाता है।

टायर प्रोटेक्ट कवर

आम तौर पर स्टैंडर्ड इंश्योरेंस में टायर को तब तक कवर नहीं किया जाता जब तक उसे एक्सिडेंट के कारण नुकसान न पहुंचे। इसी कारण ये टायर प्रोटेक्ट एड-ऑन आपको टायर को सुरक्षित रखने में मदद करता है और दूसरी परिस्थितियों में भी टायर फटने, फूलने या कट जाने पर उसे कवर देता है।

कौन सा कार इंश्योरेंस बेहतर है?