हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ऑनलाइन

डिजिट इंश्योरेंस चुनें। 3 करोड़ से भी ज्यादा भारतीयों का भरोसा
Happy Couple Standing Beside Car
{{healthCtrl.residentPincodeError}}
Send OTP OTP Sent {{healthCtrl.mobileNumberError}}

I agree to the  Terms & Conditions

Port my existing Policy
{{healthCtrl.residentPincodeError}}
Send OTP OTP Sent {{healthCtrl.mobileNumberError}}
{{healthCtrl.otpError}}
Didn't receive SMS? Resend OTP

I agree to the  Terms & Conditions

Port my existing Policy

YOU CAN SELECT MORE THAN ONE MEMBER

{{healthCtrl.patentSelectErrorStatus}}

  • -{{familyMember.multipleCount}}+ Max {{healthCtrl.maxChildCount}} kids
    (s)

DONE
Renew your Digit policy instantly right
Loader

Analysing your health details

Please wait moment....

भारत में ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदें

“मुझे हेल्थ इंश्योरेंस की जरूरत नहीं है”

अगर आप ऐसा सोचते हैं, तो आगे पढ़ें।

 

Pollution

महामारी के परिणाम ने स्वास्थ्य सुविधाओं तक पहुंच का महत्व समझा दिया।

 

Sedentary lifestyles

सुस्त जीवनशैली के कारण 61% लोगों को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा।

 

Cancer Patient

कम उम्र के कैंसर के मरीज दिन प्रति दिन बढ़ते जा रहे हैं।

 

Medical Inflations

स्वस्थ्य सेवाओं की बढ़ती कीमतों के कारण उपचार करवाना महंगा हो चुका है।

 

Mental Health

भारत में मानसिक रोगों की समस्या बढ़ती जा रही है।

 

Heart Disease

भारत में किसी अन्य नॉन कम्यूनिकेबल बीमारी की तुलना में ह्रदय रोग ने सबसे ज्यादा लोगों की जान ली है।

 

डिजिट के हेल्थ इंश्योरेंस में क्या खास है?

  • आसान ऑनलाइन प्रक्रिया- हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने से लेकर क्लेम करने तक की पूरी प्रक्रिया पेपर रहित, आसान, तेज और रुकावट रहित होती है। क्लेम के दौरान भी हार्ड कॉपी की जरूरत नहीं पड़ती।

     

  • उम्र या जोन आधारित को-पेमेंट नहीं- हमारा हेल्थ इंश्योरेंस बिना उम्र या जोन आधारित को-पेमेंट के उपलब्ध है। इसका मतलब है कि हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम के समय, आपको अपनी जेब से कुछ भी खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ती।
  • कमरे के किराए की बाध्यता नहीं- हम समझते हैं कि हर किसी की अलग अलग प्राथमिक्ता होती है। इसीलिए हमारे यहां कमरे के किराए की बाध्यता नहीं है। अपनी पसंद से अस्पताल का कोई भी कमरा चुनें।
  • एसआई वॉलेट बेनिफ़िट- अगर पॉलिसी की अवधि के दौरान आपकी इंश्योरेंस की राशि खत्म हो जाती है, तो हम आपके लिए उसे रीफ़िल कर देंगे।
  • किसी भी अस्पताल में उपचार कराएं- कैशलेस उपचार के लिए भारत में हमारे 10500+ नेटवर्क अस्पतालों में से चयन करनें या रिइम्बर्समेंट प्राप्त करें।
  •  वेलनेस बेनिफ़िट- सबसे बेहतरीन हेल्थ और वेलनेस पार्टनर के साथ कोलैबोरेशन करके डिजिट ऐप पर खास वेलनेस बेनिफ़िट पाएं।

सबके अनुसार हेल्थ इंश्योरेंस विकल्प

Health insurance for the young & the restless

युवाओं और व्यस्त लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

हमें पता है कि युवा लोग कहीं ज्यादा सेहतमंद होते हैं और इतनी कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस लेने से बचते हैं। हालांकि, युवा अवस्था में हेल्थ इंश्योरेंस लेने से आपको कम प्रीमियम भरना पड़ता है, वेटिंग पीरियड जल्दी निकल जाता है, समय आने पर मैटर्निटी बेनिफ़िट ले सकते हैं, और छोटे मोटे उपचार या चोट के लिए हमारा ओपीडी कवर भी ले सकते हैें क्योंकि इसकी जरूरत किसी को भी पड़ सकती है।

Health insurance for the Great Indian Families

भारत के बड़े परिवारों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

जब आप अपने साथ अपने प्यारे परिवार को भी सुरक्षित करना चाहते हों। आप अपने परिवार के लिए फ़ैमिली फ़्लोटर प्लान या परिवार के हर सदस्य के लिए इंडिविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीद सकते हैं। बिना को-पेमेंट, जोन आधारित डिस्काउंट, अच्छी सेहत के लिए डिस्काउंट वगैरह जैसे हमारे खास बेनिफ़िट के साथ हमारा हेल्थ इंश्योरेंस छोटे और बड़े दोनों तरह के परिवार के लिए उपयुक्त है।

Health Insurance for the Old & the Wise

बूढ़े और समझदार लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

जब भी आप खुद को और अपने प्यारे माता पिता को सुरक्षित करना चाहते हों। वरिष्ट नागरिक वाला हमारा हेल्थ इंश्योरेंस बूढ़े लोगों के लिए है। आयूष उपचार, होम हॉस्पिटलाइजेशन, कमरे के किराए की बाध्यत नही, और कोरोना वायरस होने पर अस्पताल में भर्ती जैसे बेनिफ़िट के साथ, हमारे हेल्थ इंश्योरेंस में वह सबकुछ है जिसकी आपके माता पिता को जरूरत पड़ सकती है।

Health Insurance for Fitness Enthusiasts

फ़िटनेस का ध्यान रखने वालों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

हमें पता है कि फ़िटनेस का ध्यान रखने वाले लोग सेहत के प्रति सबसे ज्यादा जागरूक होते हैं। भले ही, आप जैसे लोग कम बीमार पड़ते हों, लेकिन ऐसे में हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने पर सस्ता प्रीमियम और टैक्स में छूट जैसे फ़ायदे तो मिलते ही हैं, साथ ही आप व्यायाम करते समय चोट लगने पर ओपीडी बेनिफ़िट का लाभ भी उठा सकते हैं।

Health Insurance for Corporate Hotshots

कॉरपोरेट जगत में काम करने वाले लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

बेशक आपके पास कॉर्पोरेट मेडिकल इंश्योरेंस हो सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनमें बहुत कम सुविधाएं उपलब्ध होती हैं? अगर आप आरोग्य संजीवनी पॉलिसी जैसे स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस नहीं लेना चाहते, तो आप अपने कॉरपोरेट प्लान के ऊपर टॉप अप हेल्थ इंश्योरेंस ले सकते हैं। इसमें आपका फ़ायदा है।

Health Insurance for Employees

कर्मचारियों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

आप चाहें किसी बड़ी कंपनी के ह्यूमन रिसोर्स संभालते हों या खुद के लिए छोटा या बड़ा एंटरप्राइज़ संभालते हों। आप कम कीमत में अपने कर्मचारियों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस खरीद सकते हैं, जिससे न केवल उनकी सुरक्षा सुनिश्चित होगी, बल्कि कर्मचारी के तौर पर वे खुश भी हो जाएंगे क्योंकि इंप्लॉई हेल्थ इंश्योरेंस से उन्हें फ़ायदा मिलेगा और वे इसका मूल्य समझते हैं।

Health Insurance for Value Seekers

फ़ायदेमंद हेल्थ इंश्योरेंस की तलाश करने वाले लोगों के लिए

जो लोग सस्ता लेकिन फ़ायदेमंद हेल्थ इंश्योरेंस प्लान तलाश रहे हैं, वे आरोग्य संजीवनी पॉलिसी जैसे हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीद सकते हैं या फिर ऐसा टॉपअप हेल्थ इंश्योरेंस प्लान करवा सकते हैं जिसमें डिडक्टिबल्स भी हों, ये कम प्रीमियम वाले होते हैं।

हमारे हेल्थ इंश्योरेंस में क्या कवर किया जाता है?

कवरेज

डबल वॉलेट प्लान

इन्फ़िनिटी वॉलेट प्लान

वर्ल्ड वाइड ट्रीटमेंट प्लान

खास बातें

सभी प्रकार की अस्पताल में भर्ती - दुर्घटना, बीमारी, गंभीर बीमारी या कोविड होने पर।

इसमें बीमारी, दुर्घटना, गंभीर बीमारी या कोविड 19 महामारी जैसे किसी भी कारण से अस्पताल में भर्ती होने के खर्च का कवर मिलता है। जब तक इंश्योरेंस की राशि पूरी नहीं हो जाती, तब तक इसे कई बार अस्पताल में भर्ती होने पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

शुरुआती वेटिंग पीरियड

दुर्घटना के अलावा किसी भी तरह की बीमारी के उपचार के कवर के लिए आपको पॉलिसी लेने के पहले दिन से एक तय अवधि तक इंतजार करना होता है। इसे शुरुआती वेटिंग पीरियड कहते हैं।

वेलनेस प्रोग्राम

होम हेल्थकेयर, टेली कंसल्टेशन, योगा और माइंडफ़ुलनेस वगैरह कई खास वेलनेस बेनिफ़िट ऐप पर उपलब्ध हैं।

सम एश्योर्ड बैकअप

हम आपकी इंश्योरेंस की राशि की 100 % बैकअप इंश्योरेंस राशि देते हैं। इंश्योरेंस की राशि का बैकअप कैसे काम आता है? मान लीजिए कि आपकी इंश्योरेंस पॉलिसी की राशि 5 लाख रुपए है। आप 50,000 रुपए का क्लेम करते हैं। ऐसे में डिजिट अपने आप ही वॉलेट बेनिफ़िट दे देता है। तो अब आपके पास 4.5 लाख + 5 लाख रुपए की इंश्योरेंस राशि उस वर्ष उपलब्ध होगी। हालांकि ऐसे मामले में, एक क्लेम की राशि इंश्योरेंस की मूल कीमत से ज्यादा यानि दिए गए उदाहरण में 5 लाख रुपए से ज्यादा नहीं हो सकती।

पॉलिसी की अवधि में एक बार संबंधित और असंबंधित बीमारी में उसी व्यक्ति को नो एक्ज्हॉशन क्लॉज में कवर किया जाता है।
पॉलिसी की अवधि में असीमित बहाली संबंधित और असंबंधित बीमारी में उसी व्यक्ति को नो एक्ज्हॉशन क्लॉज में कवर किया जाता है।
पॉलिसी की अवधि में एक बार संबंधित और असंबंधित बीमारी में उसी व्यक्ति को नो एक्ज्हॉशन क्लॉज में कवर किया जाता है।
क्यूमिलेटिव बोनस
digit_special Digit Special

पॉलिसी वर्ष में क्लेम नहीं किया? आपको बोनस मिलता है- स्वस्थ्य और क्लेम मुक्त रहने के लिए आपकी इंश्योरेंस राशि में अतिरिक्त राशि शामिल की जाएगी।

हर क्लेम मुक्त वर्ष के लिए इंश्योरेंस की मूल राशि का 10% , सर्वाधिक 100%
हर क्लेम मुक्त वर्ष के लिए इंश्योरेंस की मूल राशि का 50%, सर्वाधिक 100%
हर क्लेम मुक्त वर्ष के लिए इंश्योरेंस की मूल राशि का 50%, सर्वाधिक 100%
कमरे के किराए की बाध्यता

अलग अलग श्रेणी के कमरे का किराया अलग अलग होता है। बिल्कुल वैसे ही जैसे होटल के कमरे में टेरिफ़ होता है। डिजिट में कमरे का किराया इंश्योरेंस राशि से कम होने पर किसी प्रकार की बाध्यता नहीं मिलती।

डे केयर प्रक्रिया

हेल्थ इंश्योरेंस में 24 घंटों से ज्यादा अस्पताल में भर्ती होने पर उपचार खर्च का कवर मिलता है। डे केयर प्रक्रिया में वह उपचार आते हैं जिनमें उन्नत तकनीक के कारण 24 घंटों से कम अवधि के लिए अस्पताल में भर्ती किया जाता है जैसे मोतियाबिंद, डायलेसिस वगैरह।

विश्व भर में कवरेज
digit_special Digit Special

विश्व भर में कवरेज प्राप्त करके विश्व का सबसे अच्छा उपचार करवाएं। अगर स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान भारत में आपका चिकित्सक आपकी किसी बीमारी का पता लगाते हैं, और आप उस बीमारी का उपचार विदेश में करवाना चाहते हैं, तो हम आपकी मदद करेंगे। आपको कवर किया जाएगा।

×
×
स्वास्थ्य परीक्षण

हम आपके प्लान में बताई गई राशि तक स्वास्थ्य परीक्षण के खर्च का भुगतान करते हैं। जांच के प्रकार की कोई बाध्यता नहीं है। चाहें ईसीजी हो या थायरॉएड प्रोफ़ाइल। क्लेम लिमिट जानने के लिए पॉलिसी शेड्यूल को ध्यान से पढ़ें।

इंश्योरेंस की मूल राशि का 0.25%, हर दो वर्ष के बाद सर्वाधिक ₹1000 तक।
इंश्योरेंस की मूल राशि का 0.25%, हर वर्ष के बाद सर्वाधिक ₹1500 तक।
इंश्योरेंस की मूल राशि का 0.25%, हर वर्ष के बाद सर्वाधिक ₹2000 तक।
आकस्मिक एयर एंबुलेंस का खर्च

कभी ऐसी भी आकस्मिक परिस्थिति आ सकती है जिसमें जान जाने का खतरा हो और तुरंत ही अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत हो। हम इसे अच्छी तरह समझते हैं और हेलीकॉप्टर या हवाईजहाज से अस्पताल में भर्ती होने पर आपको खर्च का रिइम्बर्समेंट देते हैं।

×
उम्र/ज़ोन आधारित को-पेमेंट
digit_special Digit Special

को-पेमेंट हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में साझा की जाने वाली राशि होती है जिसमें पॉलिसी धारक को स्वीकृत क्लेम की राशि के तय भाग का भुगतान अपनी जेब से करना होता है। इससे इंश्योरेंस की राशि कम नहीं हो जाती। यह भाग तमाम बातों पर निर्भर करता है जैसे उम्र, या कभी कभी उस ज़ोन में जहां आप उपचार करवा रहे हैं, इसे ज़ोन आधारित को-पेमेंट कहते हैं। हमारे प्लान में, किसी भी प्रकार का उम्र या ज़ोन आधारित को-पेमेंट नहीं देना पड़ता।

को-पेमेंट नहीं
को-पेमेंट नहीं
को-पेमेंट नहीं
रोड एंबुलेंस खर्च

अस्पताल में भर्ती होने पर, रोड एंबुलेंस पर आए खर्च का रिइम्बर्समेंट प्राप्त करें।

इंश्योरेंस की मूल राशि का 1%, सर्वाधिक ₹10,000 तक
इंश्योरेंस की मूल राशि का 1%, सर्वाधिक ₹15,000 तक
इंश्योरेंस की मूल राशि का 1%, सर्वाधिक ₹10,000 तक
अस्पताल में भर्ती के पहले और बाद में

इस कवर में अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्च शामिल हैं जैसे डायग्नोसिस, जांच और रिकवरी।

30/60 दिन
60/180 दिन
60/180 दिन

अन्य खास बातें

पहले से मौजूद बीमारी (पीईडी) के लिए वेटिंग पीरियड

किसी बीमारी से आप पहले से ग्रसित हैं और पॉलिसी लेते वक्त हमें उसका पता चल गया है और हमने उसे स्वीकार कर लिया है तो प्लान के अनुसार उसका वेटिंग पीरियड होता है और यह आपकी पॉलिसी शेड्यूल में उल्लेखित होता है।

3 वर्ष
3 वर्ष
3 वर्ष
खास बीमारी का वेटिंग पीरियड

यह वह अवधि है जिसमें आपको किसी खास बीमारी के होने पर, उसका क्लेम करने से पहले इंतजार करना होता है। डिजिट में यह अवधि 2 वर्ष है और पॉलिसी सक्रीय होने वाले दिन से शुरू हो जाती है। एक्सक्लूजन की पूरी सूचि के लिए, अपनी पॉलिसी वर्डिंग का स्टैंडर्ड एक्सक्लूजन (ईएक्ससीएल02) पढ़ें।

2 वर्ष
2 वर्ष
2 वर्ष
इनबिल्ट पर्सनल एक्सिडेंट कवर

पॉलिसी की अवधि के दौरान, दुर्घटना होने पर ऐसी चोट लगती है जो लंबे समय तक बनी रहती है और जो दुर्घटना होने से 12 महीनों के भीतर मृत्यु होने का सीधा और एकमात्र कारण है, तो पॉलिसी शेड्यूल में आपके प्लान और इस कवर के अंतर्गत हम आपको 100% इंश्योरेंस राशि का भुगतान करेंगे।

₹ 50,000
₹ 1,00,000
₹ 1,00,000
अंग दाता का खर्च
digit_special Digit Special

आपकी पॉलिसी में आपके अंग दाता को भी कवर किया जाएगा। डोनर के अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद की खर्च भी हम वहन करते हैं। अंग दान सबसे बड़ा उपकार है, और हम ने सोचा कि क्यों न हम भी उसका हिस्सा बनें।

घर पर भर्ती

कभी कभी अस्पतालों में भी बेड कम पड़ सकते हैं और मरीज की हालत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती करवाने की जरूरत पड़ सकती है। ऐसे में हम वह खर्च भी वहन करते हैं जब आपको घर पर ही उपचार करवाना पड़े।

बेरिएट्रिक सर्जरी

मोटापा कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। हम इसे अच्छे से समझते हैं, और चिकित्सकीय तौर पर आवश्यक होने पर या चिकित्सक द्वारा सुझाई जाने पर कराई जाने वाले बेरिएट्रिक सर्जरी को कवर करते हैं। हालांकि, हम इसमें अस्पताल में भर्ती होने के खर्च को कवर नहीं करते हैं क्योंकि यह उपचार कॉस्मेटिक कारण से किया जाता है।

मनोरोग

ट्रॉमा के कारण, अगर सदस्य को मनोरोग के उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराना पड़ जाता है, तो इस बेनिफिट के तहत उसे आईएनआर 1,00,000 तक कवर देते हैं। साइकाइट्रिक इलनेस कवर में वेटिंग पीरियड उतना ही है जितना स्पेसिफ़िक इलनेस कवर का वेटिंग पीरियड है।

कंज्यूमेबल कवर

अस्पताल में भर्ती होने के दौरान, पहले और बाद में, कई प्रकार के अन्य चिकित्सकीय उपचार और खर्च होते हैं जैसे वॉकिंग एड, क्रेप बैंडेज, बेल्ट वगैरह जिसके लिए आपको खर्च करना पड़ता है। यह कवर आपके इन सभी खर्चों का ख्याल रखता है या फिर इसे आपकी पॉलिसी से हटाया भी जा सकता है।

एडऑन के तौर पर उपलब्ध
एडऑन के तौर पर उपलब्ध
एडऑन के तौर पर उपलब्ध

क्या कवर नहीं किया जाता?

जन्म के पहले और बाद के खर्च

जन्म के पहले और बाद के खर्च जब तक अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं पड़ती।

पहले से मौजूद बीमारी

पहले से मौजूद बीमारी होने पर,जब तक वेटिंग पीरियड खत्म नहीं हो जाता, उस बीमारी से संबंधित क्लेम नहीं किया जा सकता।

डॉक्टर के सुझाए बिना अस्पताल में भर्ती

किसी भी परिस्थिति में डॉक्टर के सुझाए बिना अस्पताल में भर्ती होने पर कवर नहीं मिलता।

क्लेम कैसे दर्ज करें?

  •  रिइम्बर्समेंट क्लेम- अस्पताल में भर्ती होेने के दो दिनों की भीतर हमें 1800-258-4242 पर जानकारी दें या  healthclaims@godigit.com पर ईमेल भेजें, इसके बाद हम आपको लिंक भेजेंगे जहां रिइम्बर्समेंट प्राप्त करने के लिए आप अपना अस्पताल का बिल और सभी संबंधित दस्तावजे अपलोड कर सकते हैं।

     

  • कैशलेस क्लेम- नेटवर्क अस्पताल चुनें। यहां आप नेटवर्क अस्पतालों की पूरी सूची देख सकते हैं। अस्पताल की हेल्प डेस्क पर ई हेल्थ कार्ड दिखाएं और उनसे कैशलेस रिक्वेस्ट फ़ॉर्म मांगें। अगर सब सही रहता है, तो आपका क्लेम उसी वक्त आगे बढ़ा दिया जाएगा।

     

  • अगर आप कोरोना वायरस के लिए क्लेम करते हैं, तो आपको पास आईसीएमआर- नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ वायरोलॉजी, पुणे के अधीकृत केंद्र की पॉज़िटिव टेस्ट रिपोर्ट होनी चाहिए।
Cashless Hospitals by Digit

डिजिट के कैशलेस नेटवर्क अस्पताल

भारत के 10500+ अस्पतालों में कैशलेस उपचार प्राप्त करें।

हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम कैसे काम करता है?

डिजिट के हेल्थ इंश्योरेंस के फ़ायदे

को-पेमेंट

नहीं

कमरे के किराए की बाध्यता

नहीं

कैशलेस अस्पताल

पूरे भारत में 10500+ नेटवर्क अस्पताल

इनबिल्ट पर्सनल एक्सिडेंट कवर

हां

वेलनेस बेनिफ़िट

10+ वेलनेस पार्टनर

शहर आधारित डिस्काउंट

10% तक डिस्काउंट

विश्व भर में कवरेज

हां*

गुड हेल्थ डिस्काउंट

10% तक डिस्काउंट

कंज्यूमेबल कवर

एडऑन के रूप में उपलब्ध

*केवल वर्ल्ड वाइड ट्रीटमेंट प्लान में उपलब्ध

 

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस विकल्पों के प्रकार

फ़ैमिली फ़्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस

फ़ैमिली फ़्लोटर हेल्थ इंश्योरेंस पूरे परिवार को शामिल करने वाला हेल्थ इंश्योरेंस है।

 

व्यक्तिगत हेल्थ इंश्योरेंस

व्यक्तिगत हेल्थ इंश्योरेंस स्वतंत्र रूप से आपके अनुसार कस्टमाइज किया जाता है।

 

वरिष्ठ नागरिक के लिए हेल्थ इंश्योरेंस

कस्टमाइज सीनियर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान 60 से ज्यादा उम्र के लोगों के हिसाब से तैयार किया गया है।

 

सुपर टॉप-अप हेल्थ इंश्योरेंस

सुपर टॉप-अप प्लान तब आपके काम आता है जब आप अपना कॉरपोरेट प्लान की राशि खत्म कर देते हैं और अपनी जेब से भुगतान करने में सक्षम नहीं हो पाते।

 

ग्रुप मेडिकल इंश्योरेंस

गु्रप मेडिकल इंश्योरेंस कई लोगों के लिए खरीदा जा सकता है जैसे एक कंपनी के कर्मचारी।

 

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस

मैटर्निटी हेल्थ इंश्योरेंस आपके घर खुशियां आने के लिए अस्पताल में भर्ती के खर्च के लिए तैयार किया गया है।

 

पर्सनल एक्सिडेंट इंश्योरेंस

पर्सनल एक्सिडेंट इंश्योरेंस चोट सड़क पर एक्सिडेंट होने पर कवर प्रदान करता है।

 

आरोग्य संजीवनी पॉलिसी

यह एक स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस है जो किफ़ायती इंश्योरेंस की तलाश वालों के लिए बनाया गया है। आरोग्य संजीवनी एक बेहतर विकल्प है।

 

कोरोना कवच

कोरोना वायरस के कारण अस्पताल में भर्ती होने पर एक बार आपको कवर मिलेगा।

 

कोरोना रक्षक

यह ऐसा कोरोना वायरस हेल्थ इंश्योरेंस है जिसमें आपको कोविड होने पर उपचार में आने वाले खर्च की लमसम कीमत प्राप्त हो जाती है।

 

आपको हेल्थ इंश्योरेंस क्यों करवाना चाहिए?

मुझे ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस क्यों खरीदना चाहिए?

ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना तेज प्रक्रिया है जिसे कुछ ही मिनटों में पूरा किया जा सकता है।

डिजिटल फ़्रेंडली प्रक्रिया के कारण, ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने का मतलब है कि उसमें किसी को छूने की संभावना खत्म हो जाती है और एजेंट से मिलने और फ़ॉर्म भरने की तुलना में किसी से कम मिलना पड़ता है।

 

सभी जानकारी आपके पास चुटकियों मे हाजिर होती है, इसलिए अपने घर पर आराम से बैठे हुए भी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान का आकलन कर सकते हैं और सोचा समझा निर्णय ले सकते हैं।

 

हेल्थ इंश्योरेंस ऑनलाइन खरीदने से आपकी प्रीमियम में कुछ बचत हो सकती हैं क्योंकि इसमें कोई बिचौलिया नहीं होता।

केवल ऐसे मामले जिनमें चिकित्सकीय जांच की जरूरत पड़ती है, उनके अलावा ज्यादातर मामलों में हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ऑनलाइन आपके डीटेल भरते और प्रीमियम का भुगतान करते ही दे दी जाती हैं।

 

सामान्य हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी टर्मेनोलॉजी को आसानी से समझें

वेटिंग पीरियड

अपनी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के किसी भी बेनिफ़िट का इस्तेमाल करने से पहले आपको जितने समय के लिए इंतजार करना होता है।

 

को-पेमेंट

को-पेमेंट का मतलब होता है कि बिल आप और आपके इंश्योरर के बीच बाटा जाता है, यानि, एक तरफ जहां बिल का बड़ा हिस्सा इंश्योरर को अदा करना होता है वहीं उसका कुछ हिस्सा आपको अदा करना होता है।

पहले से मौजूद बीमारी

कोई भी ऐसी बीमारी जिसके लक्षण आपको हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी लेने से पहले आ रहे हों या पॉलिसी लेने से पहले आपने उस बीमारी का उपचार कराया हो, उसे पहले से मौजूद बीमारी कहते हैं।

डे-केयर प्रोसीजर

जब किसी को ऑपरेशन या उपचार के लिए अस्पताल में 24 घंटों से कम समय के लिए भर्ती होना पड़ता है। ऐसे उपचारों को डे केयर प्रोसीजर कहते हैं।

प्री-हॉस्पिटलाइजेशन खर्चे

अस्पताल में रहने पर आपको जितना भुगतान करना चाहिए, मेडिकल बिल उससे कहीं ज्यादा हो जाते हैं। अस्पताल में भर्ती होने से पहले के मेडिकल बिल को प्री-हॉस्पटिलाइजेशन एक्सपेंस कहा जाता है। उदाहरण के तौर पर जांच में होने वाले खर्च।

क्यूमिलेटिव बोनस

जब आप साल भर में इंश्योरेंस क्लेम नहीं करते हैं, तो आपका इंश्योरर प्रीमियम बढ़ाए बिना ही आपकी इंश्योरेंस राशि को बढ़ा देता है। इंश्योरेंस राशि की इस बढ़ी हुई कीमत को क्यूमिलेटिव बोनस कहते हैं।

डिडक्टिबल

कुछ इंश्योरेंस प्लान आपको कवर देने से पहले कुछ राशि का भुगतान आपकी अपनी जेब से करवाते हैं। इस कीमत को डिडक्टिबल कहते हैं। आमतौर पर यह कीमत आपके द्वारा हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते वक्त निर्धारित की जाती है।

 

सम इंश्योर्ड

सम इंश्योर्ड वह सर्वाधिक राशि होती है जिसका भुगतान आपका इंश्योरर एक वर्ष में आपको कर सकता है।

 

पोर्टेबिलिटी

जब आप अपने मौजूदा इंश्योरर से खुश नहीं होते और दूसरे का चुनाव करना चाहते हैं। साथ ही, वेटिंग पीरियड का नुकसान नहीं होने देना चाहते। हेल्थ इंश्योरेंस में इसे पोर्टेबिलिटी कहते हैं।

हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने से पहले ध्यान रखी जाने वाली बातें

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में तुलना करने के टिप्स

आपके हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम को प्रभावित करने वाली बातें

इंश्योरेंस की सही कीमत कैसे चुनें?

हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने के टिप्स

Popular myths about Health Insurance

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले सवाल